logo
add image

लहरतारा-फुलवरिया मार्ग की दुर्दशा से बढ़ी अंतरगृही परिक्रमा कर रहे श्रद्धालुओं की परेशानी

लहरतारा-फुलवरिया मार्ग की दुर्दशा से बढ़ी अंतरगृही परिक्रमा कर रहे श्रद्धालुओं की परेशानी

राज्य सेतु निगम की लापरवाही के चलते जलमग्न हुए परिक्रमा पथ की बदहाली से स्थानीय लोग भी परेशान

30 Dec 2020

वाराणसी। काशीलाइव (Kashilive.com)

लहरतारा-फुलवरिया मार्ग की दुर्दशा के कारण अंतरगृही परिक्रमा कर रहे हजारों श्रद्धालुओं को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा मार्ग के जलमग्न एवं भयंकर कीचड़ से भरे होने के कारण स्थानीय निवासियों को भी आवागमन मे बेहद परेशानी हो रही है।

यह भी पढ़ें: चंदौली में आयकर विभाग ने की रेड, कोलकाता से लेकर यूपी में कई स्थानों पर खंगाले दस्तावेज, वाराणसी से है खास कनेक्शन

स्थानीय निवासियों से शिकायत मिलने पर क्रांति फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ई. राहुल कुमार सिंह ने मौके पर पहुंचकर मार्ग की स्थिति का जायजा लिया। राहुल कुमार सिंह के अनुसार उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम की लापरवाही से लहरतारा फुलवरिया मार्ग की यह दुर्दशा हुई है। उन्होने आरोप लगाते हुए कहा कि जब प्रशासन को पता था कि यह मार्ग अंतरगृही परिक्रमा पथ है तथा इस पर हजारों श्रद्धालु दिनभर गुजरेंगे तब भी मार्ग को दुरूस्त नहीं कराया गया। हालात ये हैं कि अंतरगृही परिक्रमा कर रहे हजारों श्रद्धालुओं को भयंकर ठंड मे नंगे पैर इसी गंदे पानी एवं कीचड़ से भरे मार्ग पर से गुजरना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: लिकर किंग पूर्व सांसद को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस लौटी बैरंग

स्थानीय निवासी के अनुसार श्रद्धालुओं को भयंकर ठंड मे इस कीचड़ युक्त मार्ग से गुजरते देख बड़ा कष्ट होता है परंतु हम क्या कर सकते हैं। मार्ग को दुरूस्त करने के लिए तुरंत प्रशासन को कदम उठाने चाहिए। इस मार्ग से गुजरने वाले आम राहगीरों का भी बुरा हाल है। आये दिन लोग कीचड़ से भरे गड्ढों मे गिरकर घायल हो रहे हैं फिर भी प्रशासन के कान बंद हैं। प्रशासन संभवत: किसी बड़ी दुर्घटना की प्रतीक्षा कर रहा है। कई स्थानीय निवासियों ने दूसरे काफी लंबे रास्ते लहरतारा बौलिया मार्ग से आना जाना शुरू कर दिया है। उस रास्ते पर भी पुल बनने के कारण लगातार जाम की स्थिति रहती है।

यह भी पढ़ें: वाराणसी पुलिस ने किया सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, दो कालगर्ल संग युवक गिरफ्तार

लोगों का कहना है कि लहरतारा-फुलवरिया मार्ग पर जाकर कौन अपनी जान खतरे मे डालेगा। राहुल सिंह ने कहा कि अगर माननीय प्रधानमंत्री मोदी का क्योटो यही है तो पीएम साहब काशीवासियों को बख्श दें। हमे ऐसा क्योटो नहीं चाहिए जहां रास्ते पर चलना भी दूभर हो जाये। यह विषय पूर्णतया सरकार व प्रशासन की लापरवाही है तथा उन्होने इस विषय पर सम्बंधित अधिकारी से शिकायत दर्ज करायी है।

 



footer
Top