logo
add image

बनारस में ट्रैफिक साईन बोर्ड में पीएम-सीएम की फोटो विवादों के घेरे में, मानकों के अनुरूप नहीं...

बनारस में ट्रैफिक साईन बोर्ड में पीएम-सीएम की फोटो विवादों के घेरे में, मानकों के अनुरूप नहीं...

9 Jan 2021
वाराणसी। काशीलाइव (Kashilive.com)

लोक निर्माण विभाग के ट्रैफिक साईन बोर्ड में पीएम मोदी, सीएम योगी की तस्वीरें
ट्रैफिक साईन बोर्ड नियमों के अनुसार ट्राफिक साईन बोर्ड पर मात्र ट्रैफिक से ही संबंधित सूचनाओं व चित्रों का प्रावधान

जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग पर लहरतारा क्रासिंग पर लोक निर्माण विभाग द्वारा लगाया ट्रैफिक साईन बोर्ड विवादों मे घिर गया है। क्रांति फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व एमएलसी प्रत्याशी ई. राहुल कुमार सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि लहरतारा क्रासिंग पर लगा ट्रैफिक साईन बोर्ड ट्रैफिक साईन बोर्ड के आईआरसी 67-2012 नियमों के तय मानकों के अनुरूप नहीं है। 

यह भी पढ़ें: बेटी को पहनना न पड़े हिजाब इसलिए बाप कर लेता है उससे निकाह, जानिए क्या कहता मजलिस का कानून

मात्र ट्रैफिक से जुड़े चिन्ह व तस्वीरें ही हो सकती हैं बोर्ड पर:

इस ट्रैफिक साईन बोर्ड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या की तस्वीरें चस्पा कर दी गयी हैं जो कि पूरी तरह से गलत है। भारतीय ट्रैफिक साईन बोर्ड नियमों के अनुसार किसी भी ट्रैफिक साईन बोर्ड पर मात्र ट्रैफिक से जुड़े चिन्ह व तस्वीरें ही हो सकती हैं। श्री सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि नियमों की पूरी तरह से अवहेलना करते हुए प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री का चित्र इस ट्रैफिक साईन बोर्ड पर लगा दिया गया जो कि पूर्णतया गलत है। 

यह भी पढ़ें: मंडलीय अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम, बेड नम्बर 32 पर आराम फरमाता मिला कुत्ता 

बोर्ड से तुरंत हटाई जाएं पीएम-सीएम की तस्वीर:
ई. राहुल कुमार सिंह ने कहा कि यह पूरी तरह से सरकारी संपत्ति का दुरूपयोग का मामला है तथा जिन अधिकारियों ने भी इस साईन बोर्ड को देखने के बाद लगाने की अनुमति प्रदान की हैं, उनके उपर निश्चित तौर पर कार्यवाही होनी चाहिए। तुरंत इस ट्रैफिक साईन बोर्ड से प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री तथा उपमुख्यमंत्री के चित्र हटाये जाने चाहिए क्योंकि इनके चित्रों से ट्रैफिक का कोई संबंध नहीं है तथा जहां-जहां इस प्रकार के साईन बोर्ड लगे है, उन सभी पर यह कार्यवाई सुनिश्चित की जानी चाहिए। 

यह भी पढ़ें: पत्थर दिल इंसानों ने डॉल्फिन मछली की लाइव हत्या का वीडियो किया वायरल, 3 गिरफ्तार

सत्ताधारी दल के प्रति का झुकाव लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं:

श्री सिंह ने कहा कि जब स्वयं सरकारी विभाग व अधिकारी ही नियमों की अनदेखी करेंगे तो आप आम जनता से कैसे नियम पालन की उम्मीद कर सकते हैं। आम जनता अगर ट्रैफिक के नियम तोड़ती है तो तुरंत उसका चालान काटने में ट्रैफिक विभाग पीछे नहीं रहता है और कभी कभी तो बिना नियम तोड़े भी चालान की रसीद थमा दी जाती है। सरकारी विभागों का सत्ताधारी दल के प्रति इस प्रकार का झुकाव लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है तथा विभागों को इस प्रकार की प्रवृत्ति से बचना होगा।



footer
Top