logo
add image

नाबालिग लड़की से रिश्तेदार समेत 44 लोगों ने किया रेप, 3 साल तक लोगों के हवस का होती रही शिकार 

नाबालिग लड़की से रिश्तेदार समेत 44 लोगों ने किया रेप, 3 साल तक लोगों के हवस का होती रही शिकार 

22 Jan 2021
तिरुवनंतपुरम।
 काशीलाइव (Kashilive.com)

केरल के मलप्पुरम में एक लड़की से रिश्तेदारों सहित 44 पुरुषों ने तीन साल तक दुष्कर्म किया। मलप्पुरम जिले की पांडिकाद पुलिस ने कहा कि उन्होंने 44 पुरुषों के खिलाफ 32 मामले दर्ज किए हैं। इस मामले में केस दर्ज करने के साथ ही पुलिस ने कार्रवाई भी शुरू कर दी है। अब तक पुलिस ने मामले में करीब 20 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें: मुख्तार अंसारी के करीबी अजीत की हत्या में आरोपित शूटर गिरधारी की होगी बनारस की अदालत में पेशी 

लड़की ने अपने साथ हुए बर्बरता की दी जानकारी:

इस समय बाल कल्याण समिति के संरक्षण में 17 वर्षीय पीड़िता नाबालिग लड़की है। काउंसलिंग सत्र के दौरान लड़की ने अधिकारियों को अपने साथ हुए बर्बरता के बारे में बताया। लड़की ने बताया कि यौन शोषण और छेड़छाड़ की घटना उसके साथ एक बार नहीं बल्कि कई बार हुए। ई बार उसके साथ यौन उत्पीड़न व रेप करने वाला शख्स कोई और नहीं बल्कि उसके कोई जानकार या रिश्तेदार ही होते थे। 

यह भी पढ़ें: क्रुणाल पांड्या से विवाद के बाद ये खिलाड़ी सस्पेंड, अब पूरा सत्र हुआ बर्बाद

पीड़िता ने मजिस्ट्रेट के सामने दिया बयान:

पीड़िता ने सीआरपीसी के धारा 164 के तहत मजिस्ट्रेट के सामने बयान दिया है। लड़की ने कहा कि 2016 और 2017 में कई बार उसका यौन शोषण किया गया। जब वह 13 साल की थी तब से ही उसके साथ यौन उत्पीड़न व रेप होने लगा था। घटना की सूचना के बाद, तत्काल कुछ वर्ष पहले उसे स्थानीय प्रशासन ने बाल गृह भेज दिया था। 

यह भी पढ़ें: अमेजन से खरीदकर गोबर के उपले को खाया और फिर कहा- काफी बुरा लगा इस केक स्वाद

घर जाने के बाद फिर से यौन उत्पीड़न:

लगभग एक साल पहले लड़की को उसकी मां और भाई के साथ जाने की अनुमति दी गई। घर जाने के बाद एक बार फिर से लड़की के साथ पहले की तरह घटना घटने लगी और उसने आरोप लगाया कि उसने अपने घर में ही तीसरी बार अपने रिश्तेदारों के हाथों यौन उत्पीड़न का सामना किया।

यह भी पढ़ें: शादी के निमंत्रण कार्ड में भेजी शराब की बोतल और चखना के साथ मिनरल वाटर, वीडियो हुआ वायरल

सरकारी अधिकारियों ने इस मामले में कहा:

मलप्पुरम चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी के अध्यक्ष शजेश भास्कर ने कहा कि सीडब्ल्यूसी ने बच्चे की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी कानूनी और तार्किक कदम उठाए हैं। लगभग एक साल पहले बाल गृह से मुक्त होकर अपने घर गई थी, तब भी सुरक्षा सुनिश्चित करने के प्रयास किए गए थे।

यह भी पढ़ें: सिपाही के साथ मिलकर दरोगा ने की 30 लाख की लूट, 24 घंटे के अन्दर धराएं तीन

घर से निकलने के बाद बाहर के भी लोगों ने किया उसके साथ दुष्कर्म:

पुलिस अधिकारी मोहम्मद हनीफा ने मीडिया को बताया कि बाल गृह से रिहा होने के बाद घर गई लड़की कुछ समय बाद ही अपने घर से गायब थी और उसे पिछले दिसंबर में पलक्कड़ से खोजकर वापस निर्भया केंद्र लाया गया था। घर में अपने साथ हुए गलत व्यवहार के बाद वह घर से निकली इसके बाद बाहर के भी कई लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया।



footer
Top