logo
add image

चाय चौपाल में किसानों ने कृषि सुधार कानून का किया समर्थन, किसानों के बीच पहुंचे रामप्रकाश दूबे

चाय चौपाल में किसानों ने कृषि सुधार कानून का किया समर्थन, किसानों के बीच पहुंचे रामप्रकाश दूबे

9 Jan 2021
वाराणसी। काशीलाइव (Kashilive.com)

किसानों ने प्रायोजित विरोध को बताया देश हित के खिलाफ

केंद्र सरकार द्वारा पारित किसान बिल के समर्थन सरसवां (कौआपुर) में आयोजित किसानों के साथ चाय चौपाल को संबोधित करते हुए किसानों ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। कृषि सुधार बिल को लेकर भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रामप्रकाश दूबे ने कहा कि पूरे देश के किसान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार द्वारा किसानों के हित में लाये गए कृषि सुधार कानून का समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिन किसान भाइयों को थोड़ी भी आपत्ति है वो सरकार के पास आएं उनके द्वार हमेशा खुले हैं। उन्हें जहां आपत्ति हो कानून में वो बताएं। सरकार लगतार वार्ता का आमंत्रण दे रही लेकिन विपक्षी किसानों को बहकावा दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें: बनारस में ट्रैफिक साईन बोर्ड में पीएम-सीएम की फोटो विवादों के घेरे में, मानकों के अनुरूप नहीं...

किसानों बिल का विरोध कर रहे विपक्षी दलों को आड़े हाथ लेते हुए भाजपा नेता अरविंद मिश्रा ने कहा कि विरोधी दल किसानों के कंधे का इस्तेमाल करके सरकार पर प्रहार करने का रास्ता खोज रहे हैं।  किसानों के पीछे खड़े होकर के सरकार पर जो निशाना लगाने की कोशिश करते हैं, ये कभी किसानों के कभी हितैषी नहीं रहे। प्रगतिशील किसान नंदलाल पटेल ने कहा किसानों के लिए तमाम योजनाएं जिनमे फसल बीमा, न्यूनतम समर्थन मूल्य की पारदर्शिता, आधुनिक खेती को प्रोत्साहित करने के निर्णयों से किसान की खुशहाली सुनिश्चित है।

यह भी पढ़ें: मंडलीय अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम, बेड नम्बर 32 पर आराम फरमाता मिला कुत्ता 

किसानो के साथ चौपाल की अध्यक्षता सत्य नारायण दूबे ने की संचालन अनिल मिश्र ने किया। किसानों के साथ चौपाल में नंदलाल पटेल, अजय पटेल, अमरेश पटेल, राजनाथ मौर्य, विनोद पाण्डेय, नीलेश दूबे समेत अन्य गांवों के किसान शामिल रहे।
 



footer
Top