logo
add image

सबका साथ हो तो गंगा साफ हो, बनारस में गंगा घाटों पर गूंजे स्वच्छता के स्वर

सबका साथ हो तो गंगा साफ हो, बनारस में गंगा घाटों पर गूंजे स्वच्छता के स्वर

4 Jan 2021
वाराणसी। काशीलाइव (Kashilive.com)

गंगा घाटों पर सोमवार को स्वच्छता के गगनभेदी उद्घोष सुनाई पड़े। मौका था नमामि गंगे द्वारा आयोजित स्वच्छता पदयात्रा का। ‘भारत माता की जय संग’ हाथों में तिरंगा और स्वच्छता का संदेश देती तख्तियां, ‘नव वर्ष का है संकल्प अविरल गंगा निर्मल जल’, ‘सबका साथ हो गंगा साफ हो’, ‘हम सबने ये ठाना है गंगा स्वच्छ बनाना है’, ‘गंदगी है तो बीमारी है सफाई है तो स्वास्थ्य है’ के नारों से राजेंद्र प्रसाद घाट से दरभंगा घाट तक का क्षेत्र गूंज उठा।

यह भी पढ़ें: हद है, वाराणसी व्यापार मंडल के अध्यक्ष लगा रहे डांसर संग ठुमके, इस आइपीएस ने की है शिकायत

गंगा सेवक संयोजक नमामि गंगे/सह संयोजक गंगा विचार मंच काशी प्रांत, सदस्य जिला गंगा समिति वाराणसी, ब्रांड अंबेसडर (स्वच्छता दूत) नगर निगम वाराणसी राजेश शुक्ला की अगुवाई में सभी ने घाटों और गंगा किनारे की स्वच्छता का संकल्प लिया। राजेश शुक्ला ने कहा कि भगवान शिव जगत हित में गंगा को अपनी जटाओं में समाहित करके पृथ्वी पर लाएं है। गंगा सदियों से भारत के हित में कार्य कर रही हैं।

यह भी पढ़ें: दोस्त को घर बुलाकर पति करवाता था पत्नी का रेप, सामने बैठकर वीडियो भी बनाया और कहा...

उन्होंने कहा कि गंगा किनारे ही हम भारतवासियों के चेतना के पल जागृत हुए हैं। गंगा हमारी आस्था और अर्थव्यवस्था दोनों हैं। गंगा और घाटों की स्वच्छता बनाए रखना सभी की नैतिक जिम्मेदारी है। आयोजन में शिवदत्त द्विवेदी, शिवम अग्रहरी, रामप्रकाश जायसवाल, सीमा चौधरी, प्रीति जायसवाल, सारिका गुप्ता, सीमा साहू आदि शामिल रहे।



footer
Top