logo
add image

भईया मेरे याद रखना, चाइनीज मंझे का बहिष्कार करना, छात्राओं ने दी नसीहत 

भईया मेरे याद रखना, चाइनीज मंझे का बहिष्कार करना, छात्राओं ने दी नसीहत 

4 Jan 2021
वाराणसी। काशीलाइव (Kashilive.com)

मकर संक्रांति पर पतंगों का पर्व को देखते हुए विगत कई वर्षों से लोगों के जान के साथ-साथ पशु पक्षियों के घायल एवं मौत का कारण बन गए जानलेवा चाइनीज मंझे के रोक पर कड़ाई से पालन करने की मांग को लेकर भैरवनाथ स्थित श्री वल्लभ विद्यापीठ बालिका इंटर कॉलेज की छात्राओं ने सामाजिक संस्था सुबह-ए-बनारस क्लब के बैनर तले पतंग लेकर कालेज के परिसर में चाइना भगाओ, जान बचाओ, भईया मेरे याद रखना, चाइनीज मंझे का बहिष्कार करना, आदि नारों के साथ लोगों से चाइनीज मंझे से पंतग ना उड़ाने की अपील की। 

यह भी पढ़ें: हद है, वाराणसी व्यापार मंडल के अध्यक्ष लगा रहे डांसर संग ठुमके, इस आइपीएस ने की है शिकायत

इस अवसर पर क्लब के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल, क्लब के संरक्षक समाजसेवी, (प्रमुख उद्यमी) विजय कपूर, एवं कॉलेज की प्रधानाचार्या डॉ मुक्ता पांण्डेय ने संयुक्त रूप से कहा कि आगामी मकर संक्रांति पर्व को देखते हुए बच्चों के साथ युवाओं में भी पतंग उड़ाने का शौक वर्षों से चला आ रहा है। मगर यही शौक विगत कुछ वर्षों से अब घातक सिद्ध होने लगा है। जबसे चाइनीज मंझे ने बाजार में अपना पांव पसारा देशी मंझे के मुकाबले सस्ता एवं ब्लेड की धार की तरह मजबूत होने तथा पतंग उड़ाने के शौकीन बच्चों के लिए पसंदीदा बनने की वजह से न्यायालय की रोक के बावजूद दुकानदार इसको चोरी-छिपे बेच रहे हैं।

गौरतलब है कि पूर्व में कई लोगों को घायल एवं कई लोगों का जान लेने वाला कातिल मंझा विगत तीन-चार महीने पहले एक मासूम बच्ची का भी जान ले चुका है। इस कातिल जानलेवा चाइनीज मंझे से इतनी घटनाएं हो रही हैं। कुछ घटनाएं अखबारों में छप जाते हैं और कुछ अधिक छप नहीं पाते हैं। 

यह भी पढ़ें: दोस्त को घर बुलाकर पति करवाता था पत्नी का रेप, सामने बैठकर वीडियो भी बनाया और कहा...

जनहित को देखते हुए इस पर रोक लगाना नितांत आवश्यक है। सभी छात्राओं ने प्रशासन से इसकी बिक्री पर कड़ाई से रोक लगाने के साथ-साथ यह शपथ लिया कि हम अपने-अपने भाइयों के साथ- साथ पास-पड़ोस के बच्चों को चाइनीज मंझे के दुष्परिणामों के बारे में जागृत करते हुए उन्हें कातिल चाइनीज मंझे से पतंग ना उड़ाने के लिए प्रेरित करते हुए उनमें जागरूकता लाएंगे। कार्यक्रम में मुकेश जायसवाल, विजय कपूर, मुक्ता पांडे, कोषाध्यक्ष नंद कुमार टोपी वाले, उपाध्यक्ष अनिल केशरी सहित सैकड़ों छात्राएं शामिल थी।
 



footer
Top