logo
add image

बड़ी खबर: कोरोना वैक्सीन लगने के बाद वालंटियर की मौत, वैक्सीन ट्रायल में पहली मौत

बड़ी खबर: कोरोना वैक्सीन लगने के बाद वालंटियर की मौत, वैक्सीन ट्रायल में पहली मौत

9 Jan 2021
भोपाल। काशीलाइव (Kashilive.com)

कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण की तैयारियों के बीच मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से एक बड़ी ही सनसनीखेज खबर सामने आ रही है। भोपाल में बीते 21 दिसंबर को एक मजदूर दीपक मरावी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, बताया जा रहा है कि दीपक कोविड-19 वैक्सीन ट्रायल का प्रतिभागी था। आरोप है कि दीपक की मौत कोरोना वायरस की वैक्सीन की वजह से हुई है।

यह भी पढ़ें: बनारस में ट्रैफिक साईन बोर्ड में पीएम-सीएम की फोटो विवादों के घेरे में, मानकों के अनुरूप नहीं...

परिवार ने सरकार और वैक्सीन कंपनी पर लगाया आरोप:

टीवी रिपोर्ट के मुताबिक 47 वर्षीय दीपक मरावी की मौत पिछले वर्ष 21 दिसंबर को हुई थी। वह टीला जमालपुरा स्थित सूबेदार कॉलोनी स्थित अपने घर में मृत पाया गया। इसके बाद परिवार ने आरोप लगाया कि कोविड-19 वैक्सीन ट्रायल में वॉलंटियर थे और उनकी मौत वैक्सीन के डोज से हुई है। दीपक के वैक्सीन वॉलंटियर होने के बावजूद राज्य सरकार और ना ही वैक्सीन निर्माता कंपनी ने फॉलोअप किया। इसके अलावा परिवार को भी जानकारी भी नहीं दी गई थी कि दीपक मरावी के कोविड-19 वैक्सीन वॉलंटियर हैं।

यह भी पढ़ें: मंडलीय अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम, बेड नम्बर 32 पर आराम फरमाता मिला कुत्ता 

पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट का इंतजार:

मामला प्रकाश में आने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है, अब पुलिस भी हरकत में आ गई है। दीपक मरावी की संदिग्ध मौत को लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है और यह जानने की कोशिश कर रही है कि दीपक को किस कंपनी की वैक्सीन दी गई थी। हालांकि दीपक की मौत कोरोना वायरस वैक्सीन से हुई है या कोई और वजह है, इसका खुलासा पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट के आने के बाद ही होगा। इस बीच पुलिस को मृतक दीपक की विसरा रिपोर्ट सौंप दी गई है।



footer
Top