logo
add image

आठ वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले को आजीवन कारावास की सजा

आठ वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले को आजीवन कारावास की सजा

मिर्जापुर । काशीलाइव

बालिकाओ एवं महिलाओं के विरुद्ध होने वाले जघन्य अपराधों में दोषियों को सजा दिलाये जाने के अभियान के क्रम में आठ वर्षीय नाबालिग बालिका के साथ दुष्कर्म करने वाले अभियुक्त को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। इस अभियोग की पुलिस महानिरीक्षक विन्ध्याचल परिक्षेत्र द्वारा सतत निगरानी के लिए एडोप्ट किया गया था। थाना पड़री में सन् 2017 में पंजीकृत पॉक्सो एक्ट प्रकरण में विवेचक निरीक्षक उदय प्रताप सिंह द्वारा गुणवत्तापूर्ण विवेचना एवं अपर शासकीय अधिवक्ता- सुनीता गुप्ता व सनातन कुमार (एडीजीसी) तथा कोर्ट मोहर्रिर पुष्पा गुप्ता व कांस्टेबल बिट्टू सिंह द्वारा मजबूती से साक्ष्यो व गवाहों को न्यायलय में समय में प्रस्तुत किया गया। जिरह करने व पैरोकार जयकृष्ण यादव के पैरवी के फलस्वरुप बुधवार को मुकदमे में अभियुक्त मुकेश बिन्द पुत्र घासी बिन्द निवासी तिगोड़ा थाना पड़री मीरजापुर को 05 वर्ष के कठोर कारावास व दस हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया गया। जुर्माना  न देने पर तीन माह के अतिरिक्त कारावास की सजा भुगतनी होगी। यह फैसला विशेष न्यायधीश (पॉक्सो एक्ट) अपर सत्र न्यायाधीश मिर्जापुर द्वारा सुनाई गई।



footer
Top