logo
add image

डीएम ने सरकारी अस्पतालों के साथ इन निजी अस्पतालों में भी कोरोना की मुफ्त जांच को दी मंजूरी

डीएम ने सरकारी अस्पतालों के साथ इन निजी अस्पतालों में भी कोरोना की मुफ्त जांच को दी मंजूरी

 

वाराणसी। काशीलाइव

बनारस में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन ने सरकारी अस्पतालों के साथ ही सात निजी अस्पतालों में भी कोरोना की जांच मुफ्त कर दी है। इन अस्पतालों में भर्ती मरीज या जिनमें कोरोना के लक्षण हैं वह अपनी जांच करा सकते है। इन अस्पतालों को स्वास्थ विभाग की ओर से एंटीजन किट मुहैया कराई गई है। यहां जांच कराने वालों को कुछ देर में ही रिपोर्ट मिल जाएगी। ऐसे में अब यदि कोरोना के लक्षण वाले मरीज आते हैं तो उन्हें लौटाया नहीं जाएगा। बल्कि टेस्ट किया जाएगा।

जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा के निर्देशन में सरकारी क्षेत्र के हॉस्पिटलों के साथ ही साथ प्राइवेट सेक्टर के हॉस्पिटलों में भी कोविड पॉज़िटिव मरीजों के इलाज की व्यवस्था सुदृढ़ की जा रही है। इसी क्रम में हेरिटेज इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस भदवर में एल-1 फ़ैसिलिटी के 200 बेड, मेडविन हॉस्पिटल मैदागिन में एल-2 फ़ैसिलिटी के 40 बेड एवं एल-3 फ़ैसिलिटी के 20 बेड, एपेक्स हॉस्पिटल भिखारीपुर में एल-2 फ़ैसिलिटी के 24 बेड एवं एल-3 फ़ैसिलिटी के 16 बेड, मेरेडियन हॉस्पिटल सारनाथ में एल-1 फ़ैसिलिटी के 30 बेड, त्रिमूर्ति हॉस्पिटल सम्बद्ध होटल गुप्ता इन नदेसर में एल-1 फ़ैसिलिटी के 48 बेड में कोविड पॉज़िटिव मरीजों को भर्ती कर उपचार हेतु स्वीकृति प्रदान की गयी है। अब इसका विस्तार करते हुये लक्ष्मी मेडिकल एंड सर्जिकल सेंटर, मलदहिया, कैंट, वाराणसी में एल-1 फ़ैसिलिटी के 50 बेड, सूर्योदय हॉस्पिटल भोजूबीर में एल-1 फ़ैसिलिटी के 15 बेड एवं एल-2 के 25 बेड की स्वीकृति प्रदान की गयी है।

जिलाधिकारी ने कहा कि इन स्वीकृत प्राइवेट हॉस्पिटलों में कोविड पॉज़िटिव ऐसे मरीज जो स्वयं के खर्च पर आइसोलेशन में भर्ती रहकर अपना उपचार कराना चाहते हैं वो इन प्राइवेट फ़ैसिलिटी का उपयोग कर सकते हैं। एल-1 फ़ैसिलिटी में ऐसे मरीज जिन्हें कोई लक्षण नहीं हैं यानि ए सिम्प्टोमेटिक हैं, एल-2 में ऐसे मरीज जो साधारण लक्षणयुक्त हैं तथा एल-3 में गंभीर लक्षणयुक्त जिन्हें वेंटिलेटर इत्यादि की आवश्यकता हो, को भर्ती कर उपचारित किया जाएगा। कोविड के इलाज के लिए सभी स्वीकृत प्राइवेट हॉस्पिटलों को शासन द्वारा निर्धारित दर पर इलाज करना है।

सीएमओ डॉ. वीबी सिंह ने बताया कि प्रथम चरण में रैपिड टेस्ट एंटीजन किट से इंडोर मरीजों के निःशुल्क कोरोना जांच की सुविधा आशीर्वाद हॉस्पिटल महमूरगंज, जीवी मेडिटेक-सूर्य हॉस्पिटल महमूरगंज, शुभम हॉस्पिटल मकबूल आलमरोड व ककरमत्ता, न्यूरो सिटी हॉस्पिटल अशोक नगर पाण्डेयपुर, गैलेक्सी हॉस्पिटल महमूरगंज, ओरियाना हॉस्पिटल रविंद्रपुरी को प्रदान की गयी है। इनके लैब टेक्निशियनों को डॉ. संजय राय के नेतृत्व में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। एंटीजन किट भी निःशुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है।



footer
Top