logo
add image

भाभी पर आया दोस्त का दिल तो उतार दिया मौत के घाट, पुलिस ने किया दो को गिरफ्तार

भाभी पर आया दोस्त का दिल तो उतार दिया मौत के घाट, पुलिस ने किया दो को गिरफ्तार

11 January 2021

वाराणसी। काशीलाइव 

विद्युत विभाग में संविदा पर तैनात कर्मचारी राजेश विश्वकर्मा की बीते 9 जनवरी को की गई हत्या का वाराणसी पुलिस ने राजफाश करते हुए दो आरोपियों राजेश पटेल निवासी सुंदरपुर लंका और रामबाबू निवासी करौंदी लंका को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त पिस्टल और बाइक बरामद कर ली है। 

यह भी पढ़ें: BREAKING: वाराणसी के भेलूपुर में विद्युत विभाग के संविदाकर्मी की गोली मारकर हत्या

एसपी सिटी विकास चन्द्र त्रिपाठी ने वारदात का खुलासा  करते हुए बताया कि राजेश की हत्या आशनाई में की गई। राजेश विश्वकर्मा के मित्र रहे हत्यारोपित राजेश पटेल ने बताया कि उसकी भाभी का राजेश विश्वकर्मा से अवैध संबंध था, इसलिए उसने अपने मित्र के साथ मिलकर राजेश की हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंग: भाजपा के पूर्व विधायक पर छेड़खानी का आरोप, हो गई पिटाई

दोस्त बनकर घर में आया और घर की महिला पर ही रखने लगा नजर 

पूछताछ के दौरान अभियुक्त राजेश पटेल ने बताया कि राजेश विश्वकर्मा पहले मेरा अच्छा दोस्त था। मेरा घर व उसका घर आस-पास है, दोस्ती के कारण उसका आना जाना मेरे घर में था और मैं उस पर बहुत विश्वास करता था। कुछ दिनों बाद मुझे पता चला कि मेरे बड़े भाई की पत्नी यानी मेरी भाभी से वो बातचीत करता है, जिससे मुझे संदेह हुआ और बाद में कई बार मैंने उन दोनों लोगों को बाहर मिलते हुए देखा जिससे मुझे बहुत क्रोध आया, मैने राजेश विश्वकर्मा को मना किया परंतु वो नहीं माना और मुझे ही मारने की धमकी देने लगा। जिसके कारण मैनें उसे मारने का प्लान बनाया।

यह भी पढ़ें: पीएम के संसदीय क्षेत्र में हुआ थाली पीटने का एलान तो मंत्री- विधायक के घर बढ़ी सुरक्षा

राजेश विश्वकर्मा रोज रात को 9.30 बजे ड्यूटी के लिये घर से कमच्छा पावर हाउस के लिए निकलता था और खोजवा के रास्ते जाता था जिससे मुझे उसके आने-जाने के रास्ते व समय का पता था। 9 जनवरी 21 को मैने अपने दोस्त रामबाबू को इसके बारे में बताया और बोला कि कोई गाड़ी लेकर आना और हम दोनों चलकर ये काम कर देंगे, इसके लिए रामबाबू ने अपने मामा के लड़के की गाड़ी अपाचे लेकर आया और हम दोनों राजेश विश्वकर्मा के ड्यूटी निकलने से पहले दूसरे रास्ते से खोजवा की तरफ गये और दशमी से कुछ दूर पहले गली में मैं गाड़ी से उतर गया और रामबाबू को बोला कि तुम मेरा इंतजार करों मैं काम करके आता हूँ और मैं पैदल ही गली के रास्ते दशमी जाकर राजेश विश्वकर्मा का इंतजार करने लगा कि कुछ देर बाद राजेश विश्वकर्मा मोटरसाइकिल से मेरे सामने आता हुआ दिखायी दिया, तभी मैंने रास्ते के बीच में आकर लोहे के राड से पहले उसके मुँह पे मारा जिससे वो मोटरसाइकिल सहित रोड के किनारे गिर गया फिर मैनें पिस्टल निकालकर दो तीन राउण्ड उस पर गोली चलायी और वहाँ से दौड़कर गली के रास्ते रामबाबू के पास आया और हम दोनों मोटरसाईकिल से भाग गये । रास्ते में ही मैनें घटना के समय पहने हुए कपड़ों को फेंक दिया और जैकेट पहन लिया ताकी कोई पहचान न ले। आज हम दोनों घटना में प्रयुक्त मोटरसाईकिल व असलहे को छुपाने के लिये जा रहे थे कि पकड़ गये । 

यह भी पढ़ें: चन्दौली - किसान ने खुद को मारी गोली, पुलिस जांच में जुटी

36 घंटे में खुलासा पर एडीजी, एसएसपी ने दिया ईनाम 

पुलिस उपमहानिरीक्षक/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित पाठक ने गिरफ्तारी करने वाली टीम के उत्साहवर्धन के लिए 25 हज़ार का ईनाम तथा एडीजी वाराणसी ने 50 हज़ार का ईनाम व प्रशस्ति पत्र दिया गया ।  

यह भी पढ़ें: मंडलीय अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम, बेड नम्बर 32 पर आराम फरमाता मिला कुत्ता 

गिरफ्तार अभियुक्तगण का विवरण

1. राजेश कुमार पटेल पुत्र रामलखन पटेल निवासी एन-02/182 कर्माजीतपुर सुंदरपुर थाना लंका वाराणसी उम्र-26 वर्ष  ।

2. रामबाबू उर्फ गोलू पुत्र राजेश निवासी पंचकोशी रोड करौंदी थाना लंका वाराणसी उम्र-25 वर्ष ।

यह भी पढ़ें: अजीत सिंह हत्याकांड: दबोचा गया एक शूटर, चार शूटरों की हुई पहचान, सभी आजमगढ़ के निवासी

बरामदगी का विवरण

◇ 1 पिस्टल .32 बोर, 1 जिंदा कारतूस .32 बोर, 1 मोटरसाइकिल TVS अपाचे  संख्याः यूपी-65 सीजेड-7113

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम

प्रभारी निरीक्षक भेलूपुर अमित कुमार मिश्रा, उoनिo रवि कुमार यादव, चौकी प्रभारी खोजवाँ, उoनिo प्रकाश सिंह, चौकी प्रभारी दुर्गाकुण्ड, उoनिo दीपक कुमार चौकी, प्रभारी अस्सी, उoनिo राहुल कुमार यादव, उoनिo वेद प्रकाश यादव, का0 विनोद कुमार, काo सौरभ कुमार, काo विनीत कुमार, का0 अरविन्द यादव थाना भेलूपुर जनपद वाराणसी।



footer
Top